Highlighted

30 मार्च राजस्थान दिवस | 30 March Rajasthan Diwas

राजस्थान दिवस   

राजस्थान दिवस के बारे में विस्तरित जानकारी देने वाले है रजस्थान दिवस हर वर्ष 30 मार्च को मनाया  जाता है,राजस्थान दिवस की शुरुआत से कब हुई और किसके मानाने के क्या कारण है इन सब की जानकरी विस्तृत रूप से उपलब्ध है|





राजस्थान दिवस कब मनाया जाता है?

रजस्थान दिवस प्रत्येक वर्ष 30 मार्च को मनाया जाता है,

रजस्थान दिवस क्यों मनाया जाता है?





आजादी के बाद राजस्थान का एकीकरण सात चरणों में हुआ है, जिसकी तीसरे चरण को वहतरह राजस्थान के नाम से जाना जाता है, 30 मार्च 1949 में जोधपुर,जयपुर,जैसलमेर और बीकानेर रियासतों का विलय हुआ था , इसी के उपलक्ष में हमेशा वर्ष के तीसरे महीने की 30 तारिक को राजस्थान दिवस मनाया जाता है| इसका मुख्य कारण ये भी है की उस समय राजस्थान की सबसे बड़ी ये रियासतों ने राजस्थान में विलय होगये थे| इसी के बाद हर वर्ष राजस्थान दिवस मनाया जाता है|

राजस्थान के बारे में 

भारत के पश्चिम भाग में राजस्थान राज्य स्थित है, जिसकी सीमा पंजाब,हरियाणा,उत्तरप्रदेश , मध्यप्रदेश,गुजरात की सीमा लगाती है, राजस्थान में कुल 33 जिले है, राजस्थान के मुख्य नगर जोधपुर,जयपुर,कोटा,अजमेर,और उदयपुर है, राजस्थान भारत के पर्यटक के क्षेत्र में महत्पूर्ण स्थान रखता है, और इस राज्य में खनिज संसाधन भी भरपूर मात्रा में होने के कारण राजस्थान को खनिजों का अजायबघर भी कहते है| 

राजस्थान के वर्तमान मुख्यमंत्री- श्रीमान अशोक गहलोत 
राजस्थान के वर्तमान राज्यपाल - कलराज मिश्र 




Post a Comment

0 Comments